ad 1

WAZAIF FOR JOBS AND OTHER WORKS (ख़्वाब में कुछ जानने के लिए वज़ीफा)


WAZAIF FOR JOB AND OTHER


Wazayaf  


➤नौकरी या इंटरव्यू में कामयाबी के लिए 100 मर्तबा दुरूदे पाक और 3 मर्तबा आयतल कुर्सी पढ़कर घर से निकले और रास्ते भर या हय्यू या क़य्यूमु يا حي يا قيوم पढता जाये जब तक कि इंटरव्यू की जगह पहुंच ना जाये,मौला ने चाहा तो ज़रूर कामयाब होगा|


📕 रूहानी इलाज,सफह 195



➤हर जायज़ काम के लिए - रोज़ाना बावुज़ू होकर तन्हाई में 2 रकात नमाज़ तहयतुल वुज़ू पढ़ें उसके बाद या लतीफु يا لطيف 100 बार अव्वल आखिर दरूद शरीफ,मुहताजी दूर होगी कैसा भी मर्ज़ हो शिफा होगी लड़कियों की शादी ना होती हो तो रिश्ता आयेगा इन शा अल्लाह तआला|

📕 आमाले रज़ा,हिस्सा 3,सफह 15

➤ख्वाब में कुछ मालूम करने के लिए - बावुज़ू पाक बिस्तर पर लेटकर अव्वल आखिर 11-11 बार दरूद शरीफ और 300 बार सलामुन क़ौलम मिर रब्बिर रहीम  سلام قولا من رب رحيم पढ़कर सो जायें जो भी हल होगा ख्वाब में ज़ाहिर हो जायेगा|

📕 आमाले रज़ा,हिस्सा 2,सफह 111

➤किसी का अमल इसके बराबर नहीं - तस्बीहे फातिमा यानि 33 बार सुब्हान अल्लाही  سبحان الله 33 बार अल्हम्दु लिल्लाही  الحمد الله 34 बार अल्लाहु अकबर  الله اكبر और एक बार ला इलाहा इल्लल्लाहु वहदहू ला शरीका लहू लहुल मुल्कु वलाहुल हम्दु वहुवा अला कुल्ली शैईन क़दीर  لا اله الا الله وحده لاشيك له له الملك وله الحمد وهو على كل شىء قدير इसकी फज़ीलत का ये आलम है कि उस दिन किसी का भी अमल इसके बराबर बुलंद ना किया जायेगा या ये कि कोई दूसरा भी पढ़ ले|

📕 वज़ायफे रज़वियह,सफह 235

➤वहशते दुनिया और क़ब्र से निजात - रोज़ाना जो कोई 100 बार ला इलाहा इल्लल्लाहुल मलिकुल हक़्क़ुल मुबीन لا اله الا الله الملك الحق المبين पड़ता रहेगा जो दुनिया में मुहताजी से और क़ब्र में खौफ से निजात पायेगा|

📕 रिज़्क़ में बरकत,सफह 12


➤कसरते एहतेलाम से निजात - बुखारी शरीफ की रिवायत है कि हुज़ूर सल्लललाहु तआला अलैहि वसल्लम इरशाद फरमाते हैं कि मुझे उस मुक़द्दस हस्ती की कसम है जिसके कब्ज़ए क़ुदरत में मेरी जान है कि जिस राह से उमर गुज़रता है उस राह से शैतान हट जाता है लिहाज़ा जिस किसी को एहतेलाम (nightfaal) ज़यादा होता हो तो ऐसा शैतान के शर की वजह से होता है तो वो अपने सीने पर उंगली से عمر लिखकर सोया करे इन शा अल्लाह एहतेलाम से महफूज़ रहेगा|

📕 शाने सहाबा,सफह 100


👇कोई भी किसी भी काम के कामयाबी के लिए वज़ीफा


👆 शुगर की बीमारी का क़ुरान से रूहानी इलाज

➤Har jayaz kaam ke liye - Rozana bawuzu hokar tanhayi me 2 rakat namaz tahyatul wuzu padhen uske baad YA LATEEFU  يا لطيف 100 baar awwal aakhir durood sharif,muhtaji door hogi kaisa bhi marz ho shifa hogi ladkiyon ki shaadi na hoti ho to rishta aayega in sha ALLAH taa'la

📕 Aamale raza,hissa 3,safah 15

➤Khwab me kuchh maloom karne ke liye - Bawuzu paak bister par leitkar awwal aakhir 11-11 baar durood sharif aur 300 baar SALAMUN QAULAM MIR RABBIR RAHEEM  سلام قولا من رب رحيم padhkar so jayein jo bhi hal hoga khwab me zaahir ho jayega

📕 Aamale raza,hissa 2,safah 110

➤Kisi ka amal iske barabar nahin - Tasbeehe fatima yaani 33 baar SUBHAAN ALLAHI  سبحان الله 33 baar ALHAMDU LILLAHI  الحمد الله 34 baar ALLAHU AKBAR  الله اكبر aur ek baar LAA ILAHA ILLALLAHU WAHDAHU LA SHARIKA LAHU LAHUL MULKU WALAHUL HAMDU WAHUWA ALA KULLI SHAIYIN QADEER  لا اله الا الله وحده لاشيك له له الملك وله الحمد وهو على كل شىء قدير iski fazilat ka ye aalam hai ki us din kisi ka bhi amal iske barabar buland na kiya jayega ya ye ki koi doosra bhi padh le

📕 Wazaife razviyah,safah 235


➤Naukri ya interview me kaamyabi ke liye 100 martaba durude paak aur 3 martaba aaytal kursi padhkar ghar se nikle aur raaste bhar YA HAYYU YA QAYYUMU  يا حي يا قيوم padhta jaaye jab tak ki interview ki jagah pahunch na jaaye,maula ne chaha to zaroor kaamyab hoga

📕 Ruhani ilaaj,safah 195

➤Wahshate duniya aur qabr se nijaat - Rozana jo koi 100 baar LAA ILAAHA ILLALLAHUL MALIKUL HAQQUL MUBEEN  لا اله الا الله الملك الحق المبين padta rahega jo duniya me muhtaaji se aur qabr me khauff se nijaat payega

📕 Rizq me barkat,safah 12

➤Kasrate ehtelaam se nijaat - Bukhari sharif ki riwayat hai ki huzoor sallallahu taala alaihi wasallam irshad farmate hain ki mujhe us muqaddas hasti ki kasam hai jiske qazaye qudrat me meri jaan hai ki jis raah se UMAR guzarta hai us raah se shaitan hat jaata hai lihaza jis kisi ko ehtelam (nightfaal) zyada hota ho to aisa shaitan ke shar ki wajah se hota hai to wo apne seene par ungli se عمر likhkar soya kare in sha ALLAH ehtelam se mahfooz rahega

📕 Shaane sahaba,safah 100